गर्भवती की मौत को सुलझाने के लिए कब्र से निकाला शव

कटिहार : बिहार के कटिहार में दहेज के लिए गर्भवती की हत्या के मामले को उलझे सवाल को सुलझाने के लिए मृतिका गुंजा के शव को कब्र से बाहर निकाला जाएगा. 5 महीने पहले प्रसव पीड़ा के दौरान ससुराल में हुई मौत को विवाहिता के परिजन ने हत्या बताया है. परिवार वालों के मुताबिक दहेज नहीं देने की वजह से पति और ससुराल वालों ने सी हाल में गुंजा को छोड़ दिया और बगैर इलाज के ससुराल में ही गुंजा की मौत हो गई.

कटिहार के डंडखोरा थानाक्षेत्र के बौरनी गांव मे गुंजा और रंजीत ने 2012 में प्रेम विवाह किया था. सब कुछ ठीकठाक था पर रंजीत और उसके परिवार वाले गुंजा के घर वालों से हमेशा दहेज की मांग करते रहते थे. गुंजा के पिता ने दहेज में रुपया न देकर अपनी जमीन ससुराल वालों के नाम लिख दी. लेकिन दहेज लोभी ससुराल वाले को जमीन से दहेज की भूख नहीं मिटी. वो लोग और दहेज की मांग करते रहे.

इसी बीच गुंजा गर्भवती हो गई.गुंजा के इस हाल में भी ससुराल वाले दहेज के लिए प्रताड़ित किया करते थे और उसी प्रताड़ना की वजह से गर्भवती गुंजा का सही इलाज नहीं किया जा रहा था. अंत मे ससुराल में ही गुंजा प्रसव पीड़ा की वजह से मौत के मुंह में समा गई. ससुराल वालों ने गुंजा के शव को पास के बांसबिट्टी में दफना दिया. जैसे ही ये बात गुंजा के घरवालों को पता चली घर में चीख पुकार मच गई. घरवालों ने गुंजा के मृत्यु को दहेज की खातिर हत्या बताया.

Ads Middle of Post
Advertisements

परिजनों ने गुंजा के पति समेत ससुराल वालों के खिलाफ हत्या के मामले को और गुंजा को न्याय दिलाने के लिए डंडखोरा थाने में दर्ज करवाया. जहां अब पुलिस 5 महीने बाद दर्ज मामले पर शव को कब्र से निकलने में जुटी हुई है.

गुंजा के मौत हुए कई महीने बीत जाने के बाद दर्ज मामला जब कोर्ट पहुंचा तो कोर्ट ने गुंजा के शव को कब्र से बाहर निकाल पोस्टमार्टम कराने का आदेश स्थानीय पुलिस को दे दिया. कोर्ट के आदेश का पालन करते हुए कटिहार पुलिस दंडाधिकारी के उपस्थिति में मृत गुंजा के शव को जमीन खोद कर कब्र से बाहर निकाला.

कुदरत का करिश्मा यह था कि पांच महीने बाद भी जमीन के अंदर गुंजा के शव में कोई खास परिवर्तन नहीं हुआ. पुलिस अब गुंजा के शव को पोस्टमार्टम के लिए कटिहार सदर अस्पताल ले आई है ताकि गुंजा के हुए मौत की गुत्थी को सुलझाया जा सके और पीड़ित परिवार को इंसाफ मिल सके.हालांकि पुलिस ने आरोपी पक्ष में से एक को गिरफ्तार कर लिया है और बाकी फरार आरोपी ससुराल वालों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है

अन्य ख़बरे

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.