Trending News
prev next

भाजपा नेता पर AK-47 से हमला, हमलावरों ने बरसाईं 100 गोलियां

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के नजदीकी माने जाने वाले भाजपा नेता ब्रजपाल तेवतिया की कार पर मुरादनगर इलाके में बृहस्पतिवार शाम साढे सात बजे तीन कारों में सवार बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग कर दी।

इस घटना में ब्रजपाल तेवतिया को छह गोलियां लगी हैं जबकि उनके साथ कार में बैठे चार निजी गनरों समेत पांच लोगों को भी गोलियां लगी हैं। घटना के बाद सभी घायलों को गाजियाबाद के न्यू सर्वोदय अस्पताल लाया गया जहां से ब्रजपाल तेवतिया को गंभीर हालत में नोएडा सेक्टर-62 स्थित फो‌र्टिस अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया।

वारदात बृहस्पतिवार रात करीब साढ़े सात बजे मुरादनगर के रावली रोड स्थित टेलीफोन एक्सचेंज के पास हुई। कविनगर निवासी ब्रजपाल तेवतिया बृहस्पतिवार रात को स्कार्पियो कार से मुरादनगर के रावली गांव में आयोजित एक शोक सभा से घर लौट रहे थे।

टेलीफोन एक्सचेंज के पास फॉर्च्यूनर समेत तीन कारों में सवार होकर बदमाशों ने स्कार्पियों पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। ब्रजपाल तेवतिया चालक के पीछे वाली सीट पर बैठे थे। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि बदमाशों ने उनकी कार पर करीब सौ राउंड गोलियां चलाईं।

इस दौरान ब्रजपाल तेवतिया को छह गोलियां हाथ व कमर पर लगी हैं। उनके साथ मौकम सिंह मलिक (निजी गनर) निवासी नोएडा, रामपाल (निजी गनर) निवासी एटा, इंद्रपाल निवासी कविनगर गाजियाबाद, विपिन निवासी (गनर) निवासी साहजहानपुर और अशोक (निजी गनर) निवासी फिरोजाबाद को गोलियां लगी हैं।

हमलावरों के फरार होने के बाद आनन-फानन में भाजपा नेता समेत सभी छह घायलों को गाजियाबाद के न्यू सर्वोदय नगर अस्पताल पहुंचाया गया। जहां से ब्रजपाल तेवतिया को फोर्ट‌िस अस्पताल रेफर किया गया है। घायलों में मौकम और विपिन की हालत गंभीर बताई गई है।

सभी घायलों को आईसीयू में रखा गया है। घटना की सूचना पर पुलिस के कई अधिकारी और भाजपा कार्यकर्ता न्यू सर्वोदय नगर अस्पताल पहुंच गए थे। उधर, घटना के बाद दो हमलावर ऑटो से मोदीनगर आ रहे थे। शाहबनगर पुलिस चौकी के पास चैकिंग होते देख दोनों बदमाश दो सिपाहियों पर फायरिंग कर खेतों की ओर भाग गए।

बदमाशों की तलाश में एसएसपी के नेतृत्व में देर रात सर्च आपरेशन जारी था। सूत्रों का कहना है कि बदमाशों ने भागते वक्त हथियारों से भरा एक बैग भी फेंका था। जिसमें एके 47 समेत कई हथियार मिले हैं। हालांकि पुलिस ने अभी इसकी पुष्टि नहीं की है। घटनास्थल पर पहुंचे आईजी सुजीत पांडेय का कहना है कि मामला रंजिशन लग रहा है।
पुरानी रंजिश हमले की वजह

भाजपा नेता ब्रजपाल सिंह तेवतिया पर हमले की वजह गांव की पुरानी रंजिश बताई जा रही है। पुलिस भी इसी एंगल पर इस हाई प्रोफाइल हमले की जांच कर रही है। शुरुआती जांच में रजापुर और महरौली के दो लोगों के नाम सामने आए हैं।

हालांकि इसके अलावा भी दो अन्य बिंदुओं पर पुलिस की जांच आगे बढ़ रही है। पुलिस ने मामले का जल्द ही खुलासा करने का दावा किया है। पुलिस की मानें तो रेकी के बाद इस वारदात को अंजाम दिया गया है।

पुलिस के मुताबिक दिल्ली पुलिस के सिपाही रह चुके ब्रजपाल सिंह तेवतिया की उनके गांव महरौली में ही रंजिश चल रही है। पूर्व में उनका एक मामले में नाम आया था। बाद में उन्होंने दिल्ली पुलिस की नौकरी छोड़ राजनीति में कदम रखा था।

माना जा रहा है कि उन पर हुआ हमला उसी पुरानी रंजिश का परिणाम हो सकता है। एसएसपी केएस इमेनुएल का कहना है कि घटना की शुरुआती जांच में शेखर चौधरी निवासी रजापुर और मनोज निवासी महरौली का नाम सामने आया है। उनकी गिरफ्तारी के लिए दबिश दी गई है। फिलहाल वह फरार है

विज्ञापन

satyam live

अन्य ख़बरे

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.