सीएम ने किया सबसे लंबी एलिवेटेड रोड का किया उद्घाटन

0
4

ग़ाज़ियाबाद: सीएम योगी ने शुक्रवार को गाजियाबाद विकास प्राधिकरण (जीडीए) द्वारा यूपी गेट से करहेड़ा तक बनी छह लेन एलिवेटेड रोड का उद्घाटन किया। बताया जा रहा है कि यह देश की सबसे लंबी एलिवेटेड रोड है। इसकी लंबाई 10.30 किमी है। इसके निर्माण पर 1248 करोड़ की लागत आई।
उद्धाटन के बाद कविनगर रामलीला मैदान में मुख्यमंत्री जनसभा को संबोधित किया।

देश की सबसे लंबी एलिवेटेड रोड

यह देश की सबसे लंबी (10.30 किमी) एलिवेटेड रोड है। चंडीगढ़, नोएडा और बेंगलुरु शहर में एलिवेटेड रोड की लंबाई गाजियाबाद से कम है। जिलाधिकारी रितु माहेश्वरी का दावा है कि इस रोड पर यातायात संचालन बेहद सुरक्षित और सुहाना होगा। मेरठ, हरिद्वार और देहरादून की तरफ जाने वाले लाखों वाहन चालकों को इसका लाभ मिलेगा। इस सड़क के शुरू होने से शहर से जाम की समस्या भी काफी हद तक खत्म हो जाएगी।
आज यहां रहा डायवर्जन

हिंडन गोल चक्कर से राजनगर एक्सटेंशन तक शुक्रवार को रूट डायवर्ट रहा। मुख्यमंत्री सुबह लगभग 11 बजे हिंडन एयरबेस पहुंचे। जहां से सड़क मार्ग होते हुए करहेड़ा कट पर एलिवेटेड रोड का शुभारंभ करने के बाद मेरठ रोड तिराहे से होते हुए कविनगर रामलीला मैदान तक पहुंचे।

सभी मार्गों पर मुख्यमंत्री आगमन से कुछ मिनट पूर्व ही वाहनों को डायवर्ट किया। मुख्यमंत्री एलिवेटेड रोड पर सफर भी किया।

मुख्यमंत्री सात माह बाद आज फिर गाजियाबाद में
योगी आदित्यनाथ पिछले सात महीने में तीसरी बार गाजियाबाद आए। पिछले साल विधानसभा चुनाव प्रचार को भी शामिल कर लिया जाए तो यह उनका चौथा दौरा है। विधानसभा चुनाव में योगी ने साहिबाबाद और खोड़ा में चुनावी रैलियां की थीं। मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार योगी आदित्याथ पिछले साल 31 अगस्त को कैलाश मानसरोवर भवन का शिलान्यास करने आए थे। इसके ढाई महीने बाद मुख्यमंत्री 18 नवंबर को स्थानीय निकाय चुनाव में भाजपा के लिए प्रचार करने आए थे। योगी आदित्यनाथ ने अपने पहले दौरे के दौरान विकास कार्यों की समीक्षा बैठक की थी। उस दौरान उन्होंने पुलिस और अधूरे निर्माण कार्यों पर असंतोष जताते हुए अफसरों की ¨खचाई थी। साथ ही अधूरे कार्य शीघ्र पूरे करने के निर्देश दिए। इसी को ध्यान में रखकर अधिकारियों के होश फाख्ता हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.