https://www.googletagmanager.com/gtag/js?id=UA-85630340-1
Trending News
prev next

गाजियाबाद के राजनगर एक्सटेंशन में कार में लगी भीषण आग, यातायात पुलिस की सूझबूझ से बड़ा हादसा टला !

सत्यम् लाइव, 03 जून 2022, गाजियाबाद: गाजियाबाद के राज नगर एक्सटेंशन अजनारा तिराहे के पास अचानक गाड़ी संख्या HR05 BF 1060 नंबर की कार में आग लग गई | तभी मौके पर ड्यूटी कर रहे गाजियाबाद यातायात पुलिस के जवान हेड कांस्टेबल अतुल कुमार और सिपाही सुमित कुमार ने अपनी सूझबूझ का परिचय देते हुए आने जाने वाली कमर्शियल गाड़ियों में से आग बुझाने वाले सिलेंडर निकालकर आग बुझाने का प्रयास करने किया| तभी हेड कांस्टेबल को लगा कि छोटे सिलेंडर से आग नहीं बुझ पाएगी तो तो नजदीक के बैंक्वेट हाल में से बड़ा सिलेंडर निकालकर स्वयं आग बुझाने में लग गए और तुरंत गाजियाबाद पुलिस लाइन ट्रैफिक कंट्रोल को गाड़ी में आग लग जाने की सूचना दी | गाड़ी में लगी आग की लपटें इतनी भयंकर थी कि कोई भी राहगीर गाड़ी के पास जाने की हिम्मत नहीं कर पा रहा था ऐसे में ड्यूटी पर तैनात यातायत पुलिस के जवानो ने आग बुझाने वाले सिलेंडर से गाड़ी के शीशे तोड़े जिससे की गाड़ी फटने की संभावनाओं को कम किया जा सके|

फायर ब्रिगेड को सूचना मिलते ही थोड़ी देर में ही फायर ब्रिगेड की UP32EG2434 की गाड़ी मौके पर पहुंच गई और फायर ब्रिगेड की पूरी टीम जिसमें चालक हरीश त्यागी लीडिंग फायरमैन ब्रजमोहन शर्मा, फायरमैन कर्णपाल गिरी और गौरव यादव ने मोर्चा संभाला और कार में लगी आग को बुझाने में लग गए| कार में आग इतनी भयंकर थी कि आग बुझाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी|

कार के मालिक रविंद्र कुमार ने बताया कि वह करनाल के रहने वाले हैं वह किसी काम से गाजियाबाद अपने रिश्तेदारों के पास आए थे और करनाल वापस जा रहे थे कि अचानक गाड़ी के बोनट में से चिंगारी उठी तो मैंने गाड़ी रोक कर देखा तो गाड़ी के बोनट में आग लग गई| रविंद्र कुमार ने गाजियाबाद पुलिस के जवान अतुल कुमार व सुमित की तारीफ करते हुए कहा कि इन यातायात पुलिस के जवनो के कारण सभी सुरक्षित हैं और कोई बड़ा हादसा होने से टाला गया | रविंद्र कुमार ने फायर बिग्रेड की पूरी टीम का भी धन्यवाद किया |

संवाददाता :राहुल वशिष्ठ

विज्ञापन

satyam live

अन्य ख़बरे

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.