Trending News
prev next

प्रमोशन: हेड कांस्टेबल से ए.एस.आई बनाए गए दीपक कुमार

Deepak Kumar made ASI

सत्यम् लाइव, 7 अप्रैल 2022, पूर्वी दिल्ली: थाना मानसरोवर पार्क में तैनात हेड कांस्टेबल दीपक कुमार को उनके द्वारा किए गए उत्कृष्ट कार्यों के लिए दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने बीती दिनांक 31 मार्च को आउट ऑफ टर्न प्रमोशन द्वारा एएसआई पद पर तैनात किया है l दीपक ने तमाम बड़े अपराधो की वारदातों का खुलासा किया। दीपक कुमार मानसरोवर पार्क थाने की क्रैक टीम में और साइबर क्राइम इंचार्ज के तौर पर तैनात हैं और इन्होंने अपनी तकनीकी सूजबूझ से थाना क्षेत्र में घटित काफी अपराधों/ वारदातों का खुलासा करके दोषियो को जेल पहुंचाया है।

इनकी कार्यक्षमता से प्रभावित होकर शाहदरा पुलिस उपायुक्त ने आपको दूसरे थाना क्षेत्रों मे हुई जघन्य वारदातों को सुलझाने का दायित्व भी कई बार दिया है | इस दौरान दीपक कुमार ने कई अनसुलझे मर्डर, डकैती, लूटपाट व अपहरण के केस सुलझाए और लूट के माल की बरामदगी और अपहृत बच्चों और युवतियों को उनके परिवार के पास पहुँचाने जैसे काफी उत्कृष्ट कार्य किए और इन सभी वारदातों को तकनीकी विश्लेषण और सर्विलांस के माध्यम से सुलझाने का काम करते हुए दोषियों को जेल का रास्ता दिखाया। इसी दौरान दीपक कुमार को काफी पुरस्कारों से भी नवाजा गया l

इसी क्रम में दिसंबर 2021 मे दिल्ली पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने दीपक कुमार को उनके द्वारा किए गए बेहतरीन कार्यों के लिए सम्मानित भी किया था।सितंबर 2020 में गुरु थाना जीटीबी एन्क्लेव के अंतर्गत एक किन्नर गुरु की हत्या के सनसनीखेज केस का खुलासा कर दीपक कुमार ने चार अभियुक्तों को जेल भिजवाया था । यह हत्या मृतक के प्रतिद्वंदियों द्वारा रु 55 लाख की सुपारी देकर करवाई गई थी। इसके अलावा पिछले दो तीन सालों में दीपक कुमार ने एक अन्य मर्डर केस, तीन डकैती केस, आठ लूटपाट के केसों जो की थाना गीता कॉलोनी, सीनमापुरी, जीटीबी एनक्लेव और मानसरोवर पार्क से संबंधित अनसुलझे जघन्य केस थे जिनका खुलासा करके दोषियों को जेल पहुंचाया और लूटी गई संपत्ति को बरामद करवाया।

इसके अलावा दीपक कुमार ने बहुत सारी चोरी की वारदातों का खुलासा किया और ऑनलाइन ठगी का शिकार हुए लोगों की शिकायतों पर कार्यवाही करते हुए ठगी हुई रकम के लाखो रुपए शिकायतकर्ताओं को वापस दिलवाने का काम भी किया है। थाना क्षेत्र से अपहृत बच्चों और लड़कियों को सकुशल बरामद करने और परिजनों से मिलाने के मामलो में भी इन्होंने सराहनीय भूमिका निभाई है। थाना में हुए हर प्रकार के अपराध की जांच-पडताल में इनका योगदान रहता है और ये अपने काम को बखूबी अंजाम देते हैं।दीपक का मानना है कि पुलिस के पास आने वाले पीड़ित/फरियादी को विनम्र भाव से सुनकर उनकी समस्या के निवारण में तत्पर रहना चाहिए, पीड़ित को मिलने वाली खुशी ही हमारी प्रेरणा स्रोत है।

दीपक कुमार बड़ी ही विनम्रता और सेवाभाव से अपने कार्य का निर्वहन करते हैं।अपनी ड्यूटी में विलक्षण क्षमता द्वारा किए गए कार्यों के लिये दिल्ली पुलिस द्वारा आउट ऑफ टर्न प्रमोशन चुनिंदा पुलिस कर्मियों को दिया जाता है। यह सम्मान पाकर दीपक कुमार ने न केवल अपने थाना मान सरोवर पार्क को बल्कि शाहदरा जिला पुलिस को गौरान्वित किया है। इसके अलावा बीते दिनों दीपक के बेटे अर्पित चौधरी को भी 25 मार्च 2022 को दिल्ली पुलिस कमिश्नर द्वारा कक्षा 10 में 99% अंक प्राप्ति के लिए रु 15000 का नकद पुरस्कार प्रदान गया है।

मैं दीपक को बहुत-बहुत बधाई देता हूं और मुझे गर्व है कि वह मेरे थाने में कार्यरत है । दीपक बहुत सूझबूझता के साथ काम करते हैं। ऐसे पुलिसकर्मिर्यों की वजह से जनता सुरक्षित रहती है।

प्रशांत यादव
थानाध्यक्ष (मानसरोवर पार्क)

दीपक एक होनहार पुलिसकर्मी है जो पुलिस महकमें के लिए एक प्रेरणा हैं।दीपक ने तमाम ऐसे नामुमकिन केस सुलझाये हैं जो बेहद पेचीदा थे। दीपक को बघाई व भविष्य के लिए शुभकामनाएं।

आर. सुंदरम
डीसीपी

वरिष्ठ संवाददाता – योगेश कुमार सोनी

विज्ञापन

satyam live

अन्य ख़बरे

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.